Mar 27, 2016

Tribal Headlines Feed 2016Mar27th A

Times of India


Unemployment, water crisis forcing tribal migration. Desh Deep. | TNN | Mar 26, 2016, 10.29 PM IST. BHOPAL: Poverty, unemployment and water scarcity has forced the migration of nearly a lakh Saharia tribals from more than 20 villages of Sheopur ...

The Hindu


According to organisations working for uplift of tribal communities, though the proposal for formation of a block with Kadambur as headquarters has already been forwarded to the Government by the Revenue authorities, a political thrust is vital for its ...

Business Standard


Goa Chief Minister Laxmikant Parsekar on Saturday said a judicial probe may be ordered to look into the assault on tribal leader Ravindra Velip while in judicial custody.

BBC News


The 41-year-old tribal rights activist has been an outspoken critic of police violence towards tribespeople in the state, which is facing a Maoist insurgency.

Pradesh18 Hindi
दबंगों के खौफ के कारण धार के एक गांव में आदिवासी परिवार पानी की बूंद-बूंद के लिए तरस रहे हैं. इस मामले में आखिरकार उन्होंने हिम्मत कर पुलिस से शिकायत की है, जिस पर पुलिस ने जल्द कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. जानकारी के मुताबिकआदिवासी बाहुल्य जिले धार के ग्राम दसई में शासकीय नल से गांव के कुछ दबंग आदिवासी लोगों को पानी नहीं भरने देते हैं. यदि ये लोग हिम्मत करके नल से पानी भरते हैं तो दबंग उन्हें सार्वजनिक रूप से पीटते हैं. दबंगों के खौफ के कारण बूंद-बूंद पानी को तरसे आदिवासी ...

Patrika

मंडला। जिला मुख्यालय से लगभग 20 किमी. दूर खुक्सर पंचायत के डुंगरिया गांव में रविवार को आदिवासी समाज की महापंचायत बुलवाई गई। जिसमें शामिल होने के लिए आसपास के लगभग 50 गांवों के 500 लोग शामिल हुए। इसके अलावा प्रशासनिक और पुलिस महकमे के आला अधिकारी और जनप्रतिनिधि भी मौके पर उपस्थित थे। दरअसल डुंगरिया गांव के 22 परिवारों पर लगभग 7 वर्ष पहले सामाजिक प्रतिबंध लगाया गया था और उनपर सामाजिक रीति रिवाजों, कार्यक्रमों, पर्व आदि में शामिल होने पर रोक लगा दी गई थी। पिछले सप्ताह जब प्रतिबंधित 22 परिवारों में से कुछ के वैवाहिक रिश्ते पक्के होने से पहले ही टूट गए तो ...

दैनिक भास्कर

सीएनटीएक्ट का उल्लंघन कर आदिवासी जमीन हड़पने वालों को उपायुक्त मनोज कुमार ने नोटिस भेजा है। ओमप्रकाश साहू, रोहिणी देवी, संजू कुमारी और संतोष कुमार झा को ऐसा नोटिस भेजा गया है। इस संबंध में विधि शाखा ने आम सूचना जारी की है। इन सभी पर गलत तरीके से जमीन का कंपनसेशन कराकर उसे हड़पने का आरोप है। कई बार नोटिस भेजने के बाद भी ये उपायुक्त कोर्ट में पेश नहीं हुए। अब इन्हें अंतिम मौका देते हुए छह मई को कोर्ट में हाजिर होने का निर्देश दिया गया है। हाजिर नहीं होने पर इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।



No comments:

Post a Comment